July 23, 2024

ख़बरे टी वी – एक व्यक्ति ने अपने पुरे शरीर में टेप से शराब की करीब तीन दर्जन बोतले चिपका कर उसकी तस्करी कर रहा था, इसके साथ ही उसके साथ दो महिलाये भी अपने पर्स में शराब की खेप भरकर एक ही बाइक से इसकी तस्करी कर रही थी

गोपालगंज में शराब तस्करी का अनोखा मामला सामने आया है,

यहाँ अब शराब की तस्करी के लिए अलग अलग तरीके अपनाये जा रहे है. यहाँ एक व्यक्ति ने अपने पुरे शरीर में टेप से शराब की करीब तीन दर्जन बोतले चिपका कर उसकी तस्करी कर रहा था. इसके साथ ही उसके साथ दो महिलाये भी अपने पर्स में शराब की खेप भरकर एक ही बाइक से इसकी तस्करी कर रही थी. लेकिन अब पुलिस के हत्थे चढ़ गए है. नगर थाना पुलिस ने एक पुरुष और दो महिलाओ को शराब और बाइक के साथ कोंह्वा गाँव के समीप पकड़ा है.


दरअसल नगर थाना पुलिस को गुप्त सुचना मिली थी की कुछ शराब तस्कर यूपी से शराब की खेप लेकर गोपालगंज के लिए आ रहे है. इसी सुचना के आधार पुलिस ने यह करवाई की है. नगर थाना पुलिस ने जब एक बाइक पर दो महिलाओ और एक पुरुष को रोककर जब उनकी तलाशी ली. तो तलाशी के दौरान पुलिस के सामने अनोखा मामला सामने आया.


यहाँ बाइक सवार एक व्यक्ति अपने पूरे शरीर में शराब की बोतलों को टेप के सहारे चिपका रखा था.

जब पुलिस ने गिरफ्तार तस्कर का स्वेटर निकाला तो वहा करीब तीन दर्जन विदेशी शराब छुपाकर रखा गया था. शराब बरामदगी का अबतक का यह अनोखा मामला है.
इसके अलावा जब नगर थाना पुलिस ने बाइक पर बैठी दो अन्य महिलाओ की तलाशी ली उनके पर्स से भी विदेशी शराब की कई बोतले बरामद की गयी. इस मामले में पुलिस ने बाइक सहित तीन शराब तस्करों को गिरफ्तार कर उनसे पूछताछ कर रही है.
सदर एसडीपीओ नरेश पासवान ने बताया की गुप्त सुचना के आधार पर यह कारवाई हुई है. जिसमे एक तस्कर ने अपने पुरे शरीर में शराब की बोतल अनोखे तरीके से छुपाकर रखा था.

इसके अलावा महिलाओ के पास से भी शराब बरामद किया गया है. कुल 56 बोतल विदेशी शराब जब्त की गयी है. जो करीब 17 लीटर है.
गिरफ्तार तस्करों में जीतेन्द्र कुमार , प्रीति कुमारी और मीरा कुमारी शामिल है. जीतेन्द्र कुमार नगर थाना के रजोखर गाँव का रहने वाला है. जबकि दोनों महिला तस्कर गोपालपुर थाना के सेमरा गाँव की रहने वाली है.


ये सभी तस्कर यूपी से शराब की खेप लेकर गोपालपुर थानाक्षेत्र होते हुए गोपालगंज आ रहे थे. लेकिन पुलिस के हत्थे चढ़ गए.
जिस तरीके से शराब की स्मगलिंग की जा रही थी. यह अपने आप में अनोखा मामला है.

क्योकि इस तरह की तस्करी गोल्ड , हेरोइन और अन्य मादक पदार्थो की कि जाती थी.