July 22, 2024

ख़बरे टीवी – कोरोना वायरस को लेकर बोधगया को किया गया है अलर्ट, महाबोधि मंदिर के प्रवेश द्वार पर लगाया गया शिविर, महाबोधि मंदिर के सुरक्षा में तैनात जवानों को भी किया गया है अलर्ट

कोरोना वायरस को लेकर बोधगया को किया गया है अलर्ट, महाबोधि मंदिर के प्रवेश द्वार पर लगाया गया शिविर, महाबोधि मंदिर के सुरक्षा में तैनात जवानों को भी किया गया है अलर्ट महाबोधि मंदिर में चायना से आने वाले पर्यटक की पहचान कर मेडिकल कैम्प में भेजने की भी डयूटी लगी वंही बोधगया के चायना मंदिर में पसरा सन्नाटा ,बोधगया आने वाले पर्यटक मास्क लगाकर घूम रहे है बोधगया में

 

बोधगया के महाबोधि मंदिर की सुरक्षा में लगे जवान मंदिर के सुरक्षा साथ साथ चायना से आने वाले पर्यटक पर भी रखेंगे नजर, गया जिला प्रसाशन द्वारा दिया गया चायनीज पर्यटकों को पहचान कर शिविर में लाने का निर्देश ,कोरोना वायरस को लेकर गया एयरपोर्ट से लेकर बोधगया तक है हाई अलर्ट,महाबोधि मंदिर के प्रवेश द्वार मेडिकल शिविर लगाया गया है जिसे चायना अजर हॉंगकॉंग से आने वाले विदेशी पर्यटकों को पहचान कर उनसे फॉर्म ए भरवाया जाना है और सस्पेक्टेड दिखने पर मेडिकल में बनाये गए आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया जाना है। मगर अब समस्या यह है कि महाबोधि मंदिर के प्रवेश द्वार पर तैनात बीएमपी के जवान कैसे पहचानेंगे की कौन पर्यटक चायना से है या हॉंगकॉंग से।सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मियों ने बताया कि पर्यटकों की सुरक्षा के लिए ड्यूटी लगाई गई थी अब वरीय पुलिस अधिकारियों का यह निर्देश आया है कि चायना से आये पर्यटकों की पहचान कर पास के मेडिकल शिविर में उन्हें फॉर्म भरने के भेजना है।बताया कि चुकी सभी लोग मास्क लगाए रहते है जिससे पहचान करने में काफी परेशानी हो रही।

वंही कोरोना वायरस ने बोधगया के चायना मन्दिर को ही खाली कर दिया है।वँहा के मंदिर की सुरक्षा में लगे सुरक्षाकर्मी ने बताया कि 15दिन पहले तक सब कुछ ठिक था चायनीज पर्यटक यंहा आते थे चुकी यंहा उनके लिए ठहरने से लेकर सारी व्यवस्थाये है लेकिन कोरोना वायरस के बाद चायनीज मन्दिर में सन्नाटा पसरा है।

वंही मेडिकल शिविर में नियुक्त डॉक्टर्स ने बताया की उनके लिए फॉर्म ए भरवाना है और संदिग्ध या उसके लक्षण दिखने पर तुरन्त मेडिकल कॉलेज भेजा जाना है।कोरोना वायरस से लोगो मे ख़ौफ है खासकर बोधगया में चुकी यंहा प्रतिदिन देश विदेश से सैकड़ो विदेशी पर्यटकों के आने जाने का सिलसिला लगा रहता है।