July 14, 2024

नालंदा उद्यान महाविद्यालय के कनीय व वरीय सभी वैज्ञानिक अनिश्चित कालीन भूख हड़ताल पर


नालंदा के नूरसराय में अपनी मांगों को लेकर गुरुवार को नालंदा उद्यान महाविद्यालय के कनीय व वरीय सभी वैज्ञानिक अनिश्चित कालीन भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं।वैज्ञानिक ई. मनीष कुमार ने बताया कि बिहार कृषि विश्व विद्यालय सबौर में पिछले तेरह वर्षों से किसी भी वैज्ञानिकों का प्रोमोशन नहीं हुआ है।इसी के विरोध में बुधवार को सभी वैज्ञानिक काला बिल्ला लगाकर कार्य किये थे।पर गुरुवार को अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं।विश्व विद्यालय के कुलपति व शिक्षक संघ के प्रतिनिधियों के साथ बैठक किया तज जिसमें अगले दो महीने में लंबित प्रोमोशन करने का आश्वासन दिया था।लेकिन बैठक के दिन ही शाम में विश्व विद्यालय प्रशासन इस बात से मुकर गया।और बताया गया कि यदि वित्त विभाग प्रोमोशन कर देता है तो हम आगे देखेंगे।इसी बात से नाराज शिक्षक संघ ने भूख हड़ताल करने का निर्णय लिया।इसकी सूचना राज्यपाल को भी दिया गया है।वैज्ञानिकों ने बताया कि बीएयू सबौर भारत का एकमात्र विश्विद्यालय है जो तेरह बर्षों से किसी भी वैज्ञानिक को प्रोमोशन नहीं दिया है।मौके पर डॉ. मणिकांत प्रभाकर, डॉ. रंजू कुमारी, ई.मनीष कुमार,डॉ. बिनोद कुमार,डॉ. दिलीप कुमार महतो,डॉ. शशिबाला,डॉ. दिव्या तिवारी,डॉ. सीमा, डॉ. एसके यादव,संजय सिंह,डॉ. सरदार सुनील सिंह,डॉ. आलोक,डॉ. एपी सिंह,डॉ. महेंद्र पाल सहित अन्य मौजूद थे।