July 14, 2024

ख़बरे टीवी – नालंदा के रासबिहारी में 10 दिवसीय संयुक्त वार्षिक प्रशिक्षण शिविर 14 का सफल समापन हुआ, 38 बिहार बटालियन के कमांडिंग ऑफिसर सह कैंप कमांडेंट कर्नल अरविंद राणा ने बताया कि इस शिविर में लगभग 400 कैडेटों ने भाग लिया

नालंदा के रासबिहारी में 10 दिवसीय संयुक्त वार्षिक प्रशिक्षण शिविर 14 का सफल समापन हुआ। 38 बिहार बटालियन के कमांडिंग ऑफिसर सह कैंप कमांडेंट कर्नल अरविंद राणा ने बताया कि इस शिविर में लगभग 400 कैडेटों ने भाग लिया।

 

जिसमे नालंदा, नवादा, गया, बाढ़, बख्तियारपुर जिला के स्कूल कॉलेज के कैडेटों ने भाग लिया । इस शिविर में कैडेटों में देशभक्ति की भावना पैदा करना, आदर्श इंसान बनना, अनुशासित रहना आदि सिखाया गया। कैडेटों को नागरिक सुरक्षा, स्वं सुरक्षा, प्राथमिक उपचार, हथियारों का प्रशिक्षण, नक्शा प्रशिक्षण, ड्रिल का प्रशिक्षण, खेल, गीत, नृत्य, के साथ सर्टिफिकेट A,B,C प्रमाण पत्र परीक्षा का अभ्यास भी कराया गया। कैंप की निगरानी, खाना- रहना ,साफ- सफाई, ट्रेनिंग , ड्यूटी,परीक्षा, आदि की देखरेख स्वयं कैंप कमांडेंट अरविंद राणा देख रहे थे। 71बा स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर कैंप परिसर में ही कमांडिंग अफसर कर्नल अरविंद राणा ने झंडोत्तोलन किया। कैडेटों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि आजादी के बाद सरदार पटेल ने खंड- खंड भारत को एक सूत्र में पिरोया ,सभी धर्मों को लेकर सभी के सहयोग से हमारा भारत, आज विश्व के मानचित्र पर अमिट छाप छोड़ रहा है ।

कैंप के आखिरी दिन लगभग 391 छात्र-छात्राओ ने “A” सर्टिफिकेट की परीक्षा दी। इसमें बताया गया कि” A” प्रमाण पत्र प्राप्त छात्रों को सैनिक, अर्ध सैनिक बल ,सरकारी, गैर सरकारी आदि नामांकन एवं नौकरी में छूट दी जाती है। कैंप समापन के अवसर पर डिप्टी कैंप कमांडेंट कर्नल एस के सिंह ने भी कैडेटों को संबोधित कर उन्हें “A” प्रमाणपत्र पास करने तथा मैट्रिक एवं इंटर परीक्षा की अग्रिम बधाई दी एवं देश हित में कुछ कर गुजरने देश के लिए मर मिटने, अपना, अपने स्कूल – कॉलेज जिला राज्य का नाम रोशन करने हेतु हौसला बढ़ाया की मूल मंत्र मेहनत और कठिन परिश्रम को दिया इस अवसर पर सूबेदार मेजर बाबूलाल मलही लेफ्टिनेंट राकेश रंजन पांडे, शशिकांत कुमार, प्रज्ञान मधुकर ,प्रवीण कुमार ,सीनियर कैडेट गोपाल कुमार, अविनाश, आदि लोग उपस्थित थे पूरा बटालियन परिवार, रासबिहारी उच्च विद्यालय के प्राचार्य, एनसीसी ऑफिसर, शिक्षक गण को अच्छी व्यवस्था देने के लिए कोटि-कोटि धन्यवाद कहे।