July 15, 2024

अगर जल और हरियाली है तभी जीवन सुरक्षित है

ख़बरे टी वी  – शराव बंदी के बाद बिहार में पर्यटकों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है-
अगर जल और हरियाली है तभी जीवन सुरक्षित है।
–नीतीश कुमार।।

तीन दिवसीय राजगीर महोत्सव का उद्घाटन सोमवार की अपराह्न में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दीप प्रज्वलित कर किया। उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि राजगीर महोत्सव का आयोजन बहुत ही व्यापक रूप से नियमित रूप से किया जा रहा है।जिसमे अनेक कार्यक्रम का आयोजन होता है,जिसमे बहुत से लोग की भागीदारी होती है।कहा कि राजगीर ही नही पूरे बिहार में शराब बंदी के बाद से पर्यटकों का आगमन काफी बढ़ा है।कहा कि पूर्वजों के अंतिम संस्कार के लिये लोग बोधगया जाते हैं,या हमारे बिहार में जो पर्यटक स्थल है उसका शराब से क्या मतलब।लेकिन कुछ लोगों का नजरिया खराब है जो शराब बंदी का बिरोध करते हैं।गया ,राजगीर बोधगया ,बैशाली आदि सभी जगहों का वेहतर स्थिति के लिये बहुत कुछ किया गया है। कहा कि इस महोत्सव में आने बाले समय मे स्थानीय कलाकारों के लिये भी प्रतियोगिता हो।राजगीर एक अंतरराष्ट्रीय स्थल ही नही बल्कि सभी धर्मों का केंद्र है।राजगीर की धरती आध्यत्मिक और पौराणिक दृष्टिकोण से बहुत ही महत्वपूर्ण है।भगवान बुद्ध वेणुवन में वर्षावास की और गृद्धकूट पर्वत पर उपदेश देते थे।भगवान महावीर भी प्रथम उपदेश इसी राजगीर के बिपुलागिरी पर्वत पर दिया था। कहा कि गुरुनानक देव जी के 550 वें जन्मदिन के अबसर पर यहाँ पर अनेक जगहों से काफी संख्या मे सिख समुदाय के लोग आयेगें।और इस प्रकाश पर्व के बाद निश्चित ही यहां सिख समुदाय के लोगों के आने का सिलसिला सालोभर चलती रहेगी।पर्यावरण दृष्टिकोण से भी राजगीर का महत्व है, यहां जु सफारी ,ग्रीन सफारी का निर्माण की जा रही है।कहा कि पुनः अपने अस्तित्व को प्राप्त करने बल नालन्दा विश्वविद्यालय कंफ्लिक्ट रिजोल्यूशन केंद्र बनेगा ,जहां से पूरे विश्व मे शांति का पैगाम जाएगी।कहा कि राजगीर जो पूर्व में राजधानी हुआ करता था,इसकी गौरव को बरकार रखा जाएगा।कहा कि बिहार के गौरव शाली इतिहास को पुनः प्राप्त करेगा। हालाकि मुख्यमंत्री ने यहां के लोगों से अपील किया कि राजगीर में भूजल संकट बढ़ती जा रही है,लोगों से ट्यूवेल का प्रयोग नही कर सरकार के द्वारा पेयजलापूर्ति को ही अपनाने की बात कही।कहा कि राजगीर बोधगया एवं नवादा के क्षेत्रों में गंगा नदी का पानी को लाकर स्टॉक की जाएगी और पेयजल संकट एवं गर्म कुंड के घटती धारा को मजबूत करने का काम किया जा रहा है।लोगों से अपील किया कि खेत मे अबशेष को नही जलाएं ,इससे पर्यावरण दूषित हो रही है,जिससे कारण आज जलवायु परिवर्तन हो रहा है।कहा कि सरकार जलवायु अनुकूल खेती करने के लिये भी कार्य शुरू किया गया है।उन्होंने राजगीर महोत्सव की महत्ता को देखते हुए कहा कि इस महोत्सव में स्थानीय युवाओं को भी भागीदारी का मौका मिलेगा,उनके बीच प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा।जिससे स्थानीय युवा पीढ़ी का प्रदशन को बढ़ावा मिलेगा।

इस अवसर पर पर्यटन मंत्री बिहार सरकार कृष्ण कुमार ऋषि,ग्रामीण विकास सह संसदीय कार्य मंत्री श्रवण कुमार,ग्रामीण कार्य मंत्री सह प्रभारी मंत्री नालन्दा शैलेश कुमार,सूचना जन सम्पर्क बिभाग मंत्री नीरज कुमार,कुलपति नालन्दा विश्वविद्यालय प्रो सुनैना सिंह,सलाहकार मुख्यमंत्री अंजनी कुमार सिंह,मुख्य सचिव चंचल कुमार,सचिव अनुपम कुमार,सांसद कौशलेंद्र कुमार,विधयाक रवि ज्योति कुमार,विधायक जितेंद्र कुमार ,विधायक चंद्रशेन कुमार ,विधायक,डॉ सुनील कुमार,विधायक अत्रिमुनि शक्ति यादव,बिधान पार्षद हीरा प्रसाद बिंद,पूर्व विधान पार्षद राजू यादव,बिधान पार्षद रीना यादव,महापौर ,पर्यटन विभाग प्रधान सचिव उदय सिंह कुमावत, निदेशक पर्यटन विभाग राकेश मोहन , राजगीर नगर अध्यक्ष उर्मिला देवी।पुलिस उप महानिरीक्षक पटना प्रक्षेत्र,जिलाधिकारी योगेंद्र सिंह,पुलिस अधीक्षक नीलेश कुमार,नगर आयुक्त नालन्दा,एसडीओ राजगीर संजय कुमार,सहित सभी जिला एवं अनुमंडल के पदाधिकारी सहित शहर के प्रबुद्ध लोग उपस्थित हुए।

Other Important News