July 22, 2024

पुलिस ने बनाए समाज में अपनी अच्छी छवि, जब पुलिस अच्छे काम करें तो उसे हमें स्वीकार करना चाहिए

बिहार थाना पुलिस ने तीन दिनों पूर्व फिरौती के लिए अपहृत बालक को बिहारशरीफ के बारादरी मोहल्ले से सकुशल बरामद करते हुए मौके से दो अपहरणकर्ता को भी गिरफ्तार किया है । 16 नवंबर को गिरफ्तार अपहरणकर्ता राहुल कुमार और अरविंद कुमार अपने 4 अन्य सहयोगी की मदद से बिहारशरीफ के गढ़पर से शिव प्रसाद के पुत्र रजनीश का अपरहण कर लिया था । अपरहण के बाद इसे छोड़ने के बदले 25 लाख की फिरौती की मांग कर रहा था । जिसके बाद अपहृत के पिता ने इसकी सूचना बिहार थाने को दिया । जिसके बाद पुलिस ने तकनीकी अनुसंधान के सहारे रजनीश को बिहारशरीफ के बारादरी मोहल्ले के एक लॉज से बरामद करते हुए दो अपहरणकर्ता को बरामद किया है ।

डीएसपी सदर इमरान परवेज़ ने घटना की विस्तृत जानकारी देते हुए बताएं कि अपहृत बालक नवादा जिले के वारसलीगंज थाना इलाके के पैंगरी गाँव का रहने वाला है , जबकि दोनो अपहरणकर्ता नालन्दा जिले का रहनेवाला है,  अपहृत रजनीश कुमार दिनांक 16 ग्यारह 19 को जब शाम में वह अपने किराए के मकान के सामने खड़ा था तभी दो मोटरसाइकिल पर सवार 4 अपराध कर्मी रजनीश को छेड़खानी का आरोप लगाकर बातचीत करेंगे और मामला सुलझा लेने को कह कर उसे साथ मैं मोटरसाइकिल पर बैठाकर लेकर चला गया, यह अपहरणकर्ताओं की चाल थी, और इस बात से रजनीश अभिज्ञ था|

बाद में रजनीश को सुनसान जगह पर ले जाकर परिवादी से फोन पर फिरौती के रूप में 2500000 रुपया का मांग करने लगे अपहरणकर्ता तो रजनीश को कई बार कई जगह पर बदल बदल कर ले जाकर रखा परंतु मुस्तैद नालंदा पुलिस महज 48 घंटे के अंदर अपहरणकर्ता को अपने चंगुल में लेते हुए अपहृत रजनीश को सकुशल छुड़ाने में कामयाब हुआ, पुलिस ने मौके पर से एक स्विफ्ट डिजायर कार को भी बरामद किया है , जिसका प्रयोग अपहरण में किया गया था । पुलिस के ऐसे चुस्त रवैया से जाहिर सी बात है नागरिकों के बीच छवि और विश्वास बढ़ता है|