July 14, 2024

जलवायु के अनुकूल कृषि कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा किया गया

जलवायु के अनुकूल कृषि कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा किया गया, मौके पर उपमुख्यमंत्री सह कृषि-सह पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री सुशील कुमार मोदी एवं कृषि मंत्री प्रेम कुमार सहित कई अधिकारी उपस्थित हुए, इस अवसर पर डॉक्टर राजेन्द्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय तथा बिहार कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति के साथ आठ जिलों के किसान, कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक तथा अन्य वैज्ञानिक शुभारंभ कार्यक्रम में उपस्थित हुए, कृषि विज्ञान केंद्र के खेत से सीधे संवाद भवन को जोड़ा गया था। राज्य में खेत से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग करने का यह पहला अवसर था। जलवायु परिवर्तन एक विश्वव्यापी समस्या है। जलवायु परिवर्तन के कारण मौसम की अनियमितता सर्वविदित है। जलवायु परिवर्तन का असर पिछले कुछ वर्षों में स्पष्ट रूप से दृष्टिगोचर होने लगा है। वर्षापात में कमी आई है, तथा मानसून का व्यवहार अत्यंत ही असामान्य हो गया है। इस योजना में किसान पूरे वर्ष के लिए फसल योजना बनाकर काम करेंगे। जलवायु के अनुकूल कृषि कार्यक्रम की यह योजना आठ जिलों के लिए 60 करोड की लागत से स्वीकृत की गई है। प्रथम फेज में मधुबनी, खगडिया, भागलपुर, बांका, मुंगेर, नवादा, गया तथा नालंदा जिलों में किया जाएगा 8 जिलों के अनुभव के आधार पर इसे पूरे बिहार में लागू किया जाएगा।