July 14, 2024

#nalanda: केवीके में प्रशिक्षुओं को आम एवं टमाटर के सॉस बनाने का प्रशिक्षण… जानिए

 

 

 

केवीके में प्रशिक्षुओं को आम एवं टमाटर के सॉस बनाने का प्रशिक्षण…

कृषि विज्ञान केंद्र में महिलाओं ने सीखा टमाटर का सॉस बनाना..

 

 

ख़बरें टी वी : पिछले 14 वर्षो से ख़बर में सर्वश्रेष्ठ..ख़बरें टी वी ” आप सब की आवाज ” …
आप या आपके आसपास की खबरों के लिए हमारे इस नंबर पर खबर को व्हाट्सएप पर शेयर करें…ई. शिव कुमार, “ई. राज” —9334598481.. हमारी मुहिम… नशा मुक्त हर घर …

… बच्चे और नवयुवक ड्रग्स छोड़ें .. जीवन बचाएं, जीवन अनमोल है .. नशा करने वाले संगति से बचे …

 

 

 

 

खबरें टी वी: हरनौत (नालंदा) कृषि विज्ञान केंद्र , नालंदा में 3 से 7 जून तक प्रसंस्करण एवं मूलवर्धन प्रशिक्षण कार्यक्रम चल रहा है। जिसमें जिले के बेन , हरनौत व नालंदा प्रखंड के 22 प्रतिभागी शामिल हैं।

*आम का स्क्वैश एवं टमाटर का सॉस बनाना गया*

केंद्र में ट्रेनिंग दे रहे हैं गृह वैज्ञानिक डॉ ज्योति सिन्हा ने बताया कि प्रशिक्षण के चौथे दिन आम का स्क्वैश एवं टमाटर का सॉस बनाने की प्रायोगिक विधि बताया गया। उन्होंने आम के स्क्वैश के बारे में बताया कि आम, पानी ,नमक ,चीनी नींबू आदि सामग्री चाहिए वहीं टमाटर का सॉस के लिए टमाटर , मिर्च , काला नमक ,चीनी , सौंठ , सिरका आदि सामग्री की आवश्यकता होती है।
उन्होंने बताया कि विज्ञानी पद्धति से मौसमी फल एवं सब्जियों को रक्षित कर हम उसका इस्तेमाल सालों भर कर सकते हैं तथा अपने खाद्य में विभिन्नता ला सकते हैं। इतना ही नहीं इन पदार्थो को हम आसानी से देश एवं विदेश के विभिन्न हिस्सों में निर्यात कर सकते हैं।वहीं केन्द्र के वरीय वैज्ञानिक सह प्रधान डाॅ. सीमा कुमारी ने उपस्थित प्रशिक्षणार्थियों को बताया कि फल संरक्षण में रोजगार की भारी संभावनाएं हैं जो कम पढ़े लिखे ग्रामीण युवा हैं वह इसे एक आमदनी का साधन बना सकते हैं।मौके पर मृदुला देवी , महेश प्रसाद , उषा देवी सविता देवी ,प्रेमलता देवी पूनम कुमारी , ऊषा देवी ,जीतो कुमार आदि प्रशिक्षुएं शामिल थे।

 

 

रिपोर्ट हरिओम कुमार