July 15, 2024

संवेदक कंपनी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज

एनएच 82 के कार्य प्रगति पर जिला पदाधिकारी ने व्यक्त किया असंतोष, संवेदक कंपनी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करने का दिया निदेश
——————————–
6 नवंबर 2019
——————————–
जिला पदाधिकारी योगेन्द्र सिंह ने आज एनएच-82 (बिहारशरीफ-राजगीर फ़ोर लेन मार्ग) के कार्य प्रगति का स्थल निरीक्षण किया।
निरीक्षण के क्रम में इस मार्ग में कहीं भी मशीन एवं मजदूर कार्यरत नहीं पाये गये।
इस मार्ग में कोसुक पुल एवं नालंदा थाना के बीच कई जगहों पर बिजली के हाई ट्रांसमिशन टॉवर को शिफ्ट किया जाना है,जिसके लिये ट्रांसमिशन कंपनी द्वारा कई महीने पूर्व एनओसी दिया जा चुका है।
कई महीने बीत जाने के बाद भी संवेदक एजेंसी (गायत्री प्राइवेट लिमिटेड) द्वारा ट्रांसमिशन टावर को शिफ्ट करने के लिए अभी तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गई है। जिला पदाधिकारी ने इस पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए एजेंसी (गायत्री प्राइवेट लिमिटेड) के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया।
उन्होंने इस प्रोजेक्ट की कार्यकारी एजेंसी (बिहार स्टेट रोड डेवलपमेंट कॉरपोरेशन) के मौके पर उपस्थित डीजीएम को पब्लिक ऑर्डर का उल्लंघन करने, कार्य में लापरवाही बरतने को लेकर संवेदक एजेंसी(GPL) के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया।
उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि संवेदक द्वारा कार्य में शिथिलता बरती जा रही है, जिसे किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
जिला पदाधिकारी ने बीएसआरडीसी के डीजीएम अनुराधा चंद्रा को इस प्रोजेक्ट के शेष कार्यों को अधिक से अधिक मशीन एवं मैन पावर लगाकर पूर्ण कराने का निर्देश दिया।
इस अवसर पर जिला भू अर्जन पदाधिकारी, अंचलाधिकारी बिहार शरीफ सहित बीएसआरडीसी के अभियंता, संवेदक एजेंसी के जीएम सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

Other Important News